Latest Movies

Today Best choice
check all movies now playing

Saturday, August 17, 2019

LegalPorno 2019 Florane Russell 7on1 Double Anal Gangbang

                                   Image


               Video Watch click and open


loading...

(Jakabell XXX) Susana Melo SZ1218 - Legal Porno anal gangbang

                                   Image




               Video Watch click and open


loading...

Barely legal teen Evelina Darling DAP'ed by 7 boys & 4 girls in gangbang

                                   Image




               Video Watch click and open


loading...

Pinay walker gangbang sa Hotel

                                   Image




               Video Watch click and open


loading...

wife gangbanged infront of husband

                                   Image


               Video Watchclick and open


loading...

Pinay - gangbang - special -xstoryhindi

                                   Image


               Video Watch click and open


loading...

Tuesday, August 13, 2019

Wednesday, August 7, 2019

Indian Group Sex Amazing!

                                   Image


               Video Watch click and open


loading...

Monday, August 5, 2019

पीरियड्स के दौरान भी सेक्स करने से हो सकते हैं प्रेग्नेंट, जानिए कैसे बचें

एक सर्वे के मुताबिक पीरियड्स के दौरान लड़के प्रोटेक्शन का इस्तेमाल करने से बचते हैं. ऐसे में दोनों पार्टनर्स को कई तरह के इंफ्केशन जैसे STDs और हेपटाइटस ( hepatitis)जैसे यौन समस्याओं का खतरा बना रहता है.

                           

ज़्यादातर महिलाओं को लगता है कि पीरियड्स में सेक्स करना सबसे सेफ होता है. इस दौरान वो कभी भी प्रेग्नेंट नहीं हो सकती. लेकिन आपको बता दें कि ऐसा बिल्कुल नहीं है सेक्स करने से प्रेग्‍नेंसी का खतरा हमेशा बना रहता है पीरियड्स में भी. रिसर्चर और गाइनोकॉलोजिस्ट्स बताते हैं कि महीने के 'उन द‍िनों' में1 से 15 प्रतिशत तक प्रग्‍नेंट होने के चांसेस होते हैं

इसे आप इस तरह समझ‍िए. ओवरी से अंडा निकलने की प्रक्रिया को ऑव्‍यूलेशन कहा जाता है. फैलोप‍ियन ट्यूब के जरिए अंडा यूट्रेस यानी कि गर्भाशय में पहुंचता है. फैलोपियन ट्यूब ही वह जगह है जहां स्‍पर्म के संपर्क में आकर अंडा फर्टीलाइज होता है. लेकिन अगर कंसेप्‍शन यानी कि गर्भ धारण नहीं होता है तो अंडा ब्‍लीडिंग के रूप में शरीर से बाहर निकल जाता है. इस ब्‍लीडिंग को ही पीर‍ियड कहते हैं.

ज़्यादातर महिलाओं का मंथली साइकल 28 दिनों का होता है. इसमें ऑव्यूलेशन प्रक्रिया आपके 28 दिनों के मंथली साइकल के बीचों बीच 14वें दिन शुरू होती है. इसमें पहले दिन से ही 24 घंटे तक आपके अंडे जीवित रहते हैं . वहीं, स्पर्म 5 से 7 दिन तक जिंदा रह सकते हैं. इस प्रक्रिया के हिसाब से ऑव्यूलेशन प्रक्रिया सबसे ज़्यादा एक्टिव 13वें, 14वें, 15वें और 16वें दिन रहती है. 



लेकिन कभी-कभी पीरियड्स का साइकल छोटा होता है. अगर यह गैप 22 दिन से कम है तो पीरियड्स के तुंरत बाद ऑव्यूलेशन होता है. यह गैप सिर्फ तीन-चार दिन का भी हो सकता है. इसका मतलब है कि अगर आपने बिना प्रोटेक्शन के पीरियड्स के आखिरी दिन या पांचवें दिन इंटरकोर्स किया और फिर ऑव्यूलेशन होता है तो स्पर्म से मिलकर अंडा फर्टलाइज़ हो जाएगा. जाहिर है कि छोटे पीरियड साइकल वाली महिलाओं में पीरियड्स के दौरान प्रेग्नेंसी का खतरा ज़्यादा होता है. 

वहीं, MensHealth.com की एक सर्वे के मुताबिक पीरियड्स के दौरान लड़के प्रोटेक्शन का इस्तेमाल करने से बचते हैं. ऐसे में दोनों पार्टनर्स को कई तरह के इंफ्केशन जैसे STDs और हेपटाइटस ( hepatitis)जैसे यौन समस्याओं का खतरा बना रहता है. इसीलिए इस दौरान प्रेंग्नेंसी और इन इंक्फेशन्स से बचने के लिए हमेशा लेटैक्स कंडोम का इस्तेमाल करें. ताकी आपके ब्लड से एक प्रोटेक्टिव लेयर बनी रहे. साथ ही, इंटरकोर्स के बाद खुद को क्लीन भी करें. 

प्रेग्‍नेंसी के दौरान सेक्‍स: जानिए क्‍या है सच्‍चाई और क्‍या है झूठ?


ज़्यादातर लोगों को लगता है कि प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स नहीं करना चाहिए, लेकिन ये सच नही है. पहले तिमाही में बेशक आपको बहुत थकान और मिचली की वजह से पार्टनर से क्लोज़ होने का मन ना करे. लेकिन दूसरे ट्राइमेस्टर (3 से 6 महीने) के दौरान उलटियां अमूमन आनी बंद हा जाती हैं और आप पहले से अच्‍छा महसूस करने लगती हैं. आपकी बॉडी में लव हार्मोन्‍स (ऑक्सीटॉकिन) बढ़ने लगते हैं. दरअसल, प्रेग्नेंसी के दूसरे ट्राइमेस्टर में आपका ब्लड फ्लो और स्राव दोनों बढ़ जाते हैं. इस वजह से लव हार्मोन्स की मात्रा भी बढ़ती जाएगी. इस पूरी प्रक्रिया को Chadwick (चैडविक) भी कहते हैं. इस दौरान वेजाइना में सूजन आने लगती है और लूब्रकन्ट (चिकनाई) भी बढ़ जाता है. ऐसे में पार्टनर के साथ इंटिमेट का होने का मन करने लगता है. हालांकि प्रेग्‍नेंसी में सेक्‍स को लेकर ढेर सारी ऐसी बातें की जाती हैं जिनमें कोई सच्‍चाई नहीं होती है. डॉक्‍टर श‍िल्‍पिता शानथप्‍पा आपको ऐसे ही मिथकों के बारे में बता रही हैं जिन्‍हें आप सच मानते हैं:


मिथक 1 - प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने से भ्रूण (बच्चे) को नुकसान पहुंच सकता है.सच - प्रेग्नेंसी के दौरान वेजाइना खुद ही स्ट्रेच होकर थोड़ी बड़ी हो जाती है. इसी वजह से गर्भाशय के बाहरी तरफ श्लेष्मा (म्यूकस) की भारी लेयर जम जाती है, जिससे सेक्स के दौरान बच्‍चा यूट्रेस के अंदर सुरक्ष‍ित रहता है.

गोवा या ऊटी ही नहीं, ये हैं भारत के 5 सबसे सस्ते हनीमून डेस्टिनेशन​

sex

मिथक 2 - सेक्‍स के बाद लेबर पेन उठने लगता है

सच - ये सच है कि सीमन में कुछ मात्रा में प्रोस्टाग्लैंडीन मौजूद होता है, जिस वजह से आपको थोड़ा दर्द हो सकता है. डिलीवरी के दौरान भी सिंथेटिक प्रोस्टाग्लैंडीन देते हैं ताकि आपको दर्द हो और बच्चा बाहर आ सके. लेकिन सीमन प्रोस्टाग्लैंडीन की मात्रा बहुत कम होती है, इसीलिए लेबर पेन उठने का सवाल ही नहीं उठता

मिथक 3 - सेक्स के बाद ब्‍लीडिंग होने का मतलब है मिसकैरेज या डैमेज होना.

सच - गर्भाशय के सेंसिटिव होने की वजह से सेक्स के बाद थोड़ा ब्लड निकल सकता है, जो कि सामान्‍य बात है. लेकिन अगर ब्‍लीडिंग ज़्यादा हो तो तुरंत डॉक्टर से बात करें.

मिथक 4 - प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने से वेजाइनल इंफेक्शन हो सकता है.

सच - अगर आपके पार्टनर को कोई यौन संचारित रोग (सेक्सुअल ट्रांसमिटेड डिसीज़) ना हो तो आपको कोई चिंता करने की ज़रूरत नहीं. ऐसे में बस खुद को भी साफ रखें.

अब तो आप समझ गए होंगे कि प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने से कोई नुकसान नहीं होता, बल्कि ये फायदे होते हैं:-

1. इससे आपकी पेल्विक मसल्स मज़बूत होती हैं.

2. प्रेग्नेंसी में सेक्स से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर रहता है.

3. इससे इम्यूनिटी बूस्ट होती है.

4. नींद अच्छी आती है.

5. और, इससे आप दोनों के बीच प्यार बना रहता है.

इसीलिए प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने से ना घबराएं. अगर फिर भी आपका कोई भी सवाल हो तो अपने डॉक्टर से ज़रूर सलाह लें.